संसद सुरक्षा चूक मामला- कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को जांच के लिए दिया 13 और दिन का समय

4 1 19
Read Time5 Minute, 17 Second

दिल्ली की एक कोर्ट ने संसद सुरक्षा उल्लंघन मामले में अपना आवेदन पूरा करने के लिए दिल्ली पुलिस को शुक्रवार को और समय दे दिया है. एडिशनल सेशन्स जज हरदीप कौर ने पुलिस को आवेदन पर 13 दिन का और समय दिया क्योंकि कुछ रिपोर्टों की प्रतीक्षा की जा रही थी और डिजिटल डेटा भारी मात्रा में था. पुलिस ने जज से जांच पूरी करने के लिए तीन महीने का समय और देने का आग्रह किया था.

बता दें कि 13 दिसंबर 2001 को संसद पर हुए आतंकवादी हमले की बरसी पर एक बड़ी सुरक्षा चूक हुई थी. आरोपी सागर शर्मा और मनोरंजन डी शून्यकाल के दौरान संसद की गैलरी से लोकसभा कक्ष में कूद गया था रंगीन स्मोक कैन छोड़कर नारे लगाए थे.

बाद में उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने पकड़ लिया था. उसी समय, दो अन्य आरोपी शिंदे और आजाद ने भी संसद परिसर के बाहर "तानाशाही नहीं चलेगी" चिल्लाते हुए स्मोक कैन का इस्तेमाल किया था.

तीन लेयर में है संसद भवन की सुरक्षा व्यवस्था

लोकसभा और राज्यसभा में अपने डायरेक्टर सिक्योरिटी सिस्टम होते हैं. विजिटर पास के लिए लोकसभा सचिवालय के फॉर्म पर किसी सांसद का रिकमेंडेशन सिग्नेचर जरूरी होता है. इसके साथ ही विजिटर को पास के लिए आधार कार्ड ले लाना होता है. विजिटर जब रिसेप्शन पर पहुंचता है, तो वहां मौजूद सुरक्षा गार्ड महिला और पुरुष को अलग-अलग फ्रिस्किंग करके जांच करते हैं. इसके बाद रिसेप्शन पर फोटो आईडी कार्ड बनता है. मोबाइल फोन को रिसेप्शन पर ही जमा कर लिया जाता है. इसके बाद विजिटर फोटो आइडेंटिटी कार्ड के साथ सिक्योरिटी कमांडो के जरिए गैलरी तक पहुंचता है. विजिटर गैलरी में ठहरने के लिए एक समयावधि होती है, जिसके बाद उसे बाहर कर दिया जाता है.

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

Gujarat: विधायक रविंद्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार, हुआ चौंकाने वाला खुलासा

पीटीआई, अहमदाबाद। राजस्थान के विधायक रविन्द्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी वाले पोस्ट करने के आरोपित को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यह गिरफ्तारी अपराध शाखा के अधिकारियों ने राजस्थान के बालोतरा जिले से की। आरोपित का नाम किशनलाल जाट है

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now