Mandi- झिड़ी के नया सवेरा नशा मुक्ति केंद्र पर लटका ताला, 25 मरीजों को भेजा घर; हैप्‍पी मर्डर केस के बाद एक्‍शन में आई पुलिस

स्वर्णिम भारत न्यूज़ संवाददाता, मंडी। मंडी जिले के झिड़ी के नया सवेरा नशा मुक्ति केंद्र पर प्रशासन ने शनिवार को ताला जड़ दिया। केंद्र में उपचाराधीन 25 मरीजों को उनके स्वजनों को बुला घर भेज दिया है। गत सोमवार रात केंद्र के संचालकों ने यहां उपचाराध

4 1 42
Read Time5 Minute, 17 Second

स्वर्णिम भारत न्यूज़ संवाददाता, मंडी। मंडी जिले के झिड़ी के नया सवेरा नशा मुक्ति केंद्र पर प्रशासन ने शनिवार को ताला जड़ दिया। केंद्र में उपचाराधीन 25 मरीजों को उनके स्वजनों को बुला घर भेज दिया है। गत सोमवार रात केंद्र के संचालकों ने यहां उपचाराधीन एक युवक की निर्ममता से पिटाई कर उसकी हत्या कर दी थी। मृतक के पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपितों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर पांच संचालकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

मरीजों के स्वजनों से मनमर्जी से वसूले थे शुल्‍क

तहसीलदार औट के नेतृत्व में पुलिस ने केंद्र को खाली करवाया। संचालक मरीजों के स्वजनों से मनमर्जी से शुल्क वसूलते थे। सुविधा के नाम पर केंद्र में कुछ नहीं था। मानकों के अनुसार मनोरोग चिकित्सक व अन्य स्टाफ भी नहीं था। कुछ माह पहले निरीक्षण के दौरान केंद्र में कई कमियां पाई गई थी। संचालकों ने कमियों को दूर करना उचित नहीं समझा था। केंद्र बिना नवीनीकरण से चल रहा था। केंद्र 2008 में शुरु हुआ था।

यह भी पढ़ें:Mandi News: झिड़ी नशा निवारण केंद्र पर लगेगा ताला, पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग से की सिफारिश; हैप्पी की हत्या में भी हाथ

हैप्‍पी की मौत के बाद चर्चा में आया

कुल्लू जिले के न्यूली के रहने वाले हैप्पी को उसके स्वजनों ने उपचार के लिए 13 नवंबर को केंद्र में भर्ती करवाया था। 21 नवंबर की रात हैप्पी ने एक अन्य उपचाराधीन मरीज पर पैन फेंक दिया था। केंद्र के चार संचालकों ने उसकी पिटाई कर दी थी। तैश में आकर सिर पर डंडे से वार कर दिया था। इससे हैप्पी के सिर में गंभीर चोट आने से देर रात उसकी मौत हो गई थी। केंद्र का मुख्य संचालक संजय खुल्लर भी पूरे मामले में मुकदर्शक बना रहा।

केंद्र को बंद करने की सिफारिश की थी

दो दिन तक मामले को दबाने का प्रयास करता था। सीसीटीवी फुटेज,अन्य उपचाराधीन मरीजों व पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने आरोपितों की पोल खोल कर रख दी थी। दैनि स्वर्णिम भारत न्यूज़ ने नियमों को ताक पर रखकर चल रहे केंद्र का मामला प्रमुखता से उठाया था। इसके बाद एसडीपीओ कार्यालय पद्धर ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी व उपायुक्त को पत्र लिख केंद्र को बंद करने की सिफारिश की थी।

यह भी पढ़ें:Mandi News: Forex Trading के आरोपितों पर SIT की बड़ी कार्रवाई, दो करोड़ के लग्‍जरी वाहन किए गए जब्‍त; जांच जारी

झिड़ी नया सवेरा नशा मुक्ति केंद्र को बंद कर दिया गया है। केंद्र में उपचाराधीन सभी मरीजों को उनके घर भेज दिया है। -संजीव सूद,डीएसपी पद्धर

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

दिल्ली: वसंत कुंज के एंबियंस मॉल में टला बड़ा हादसा, सिलिंग गिरने से ग्राउंड फ्लोर के कांच टूटे

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now